राजवीर-मेघना कॉलेज लव स्टोरी - Best Heart Touching Story In Hindi  - यह लव स्टोरी उस समय की है जब राजवीर ने कॉलेज में दाखिला लिया था। कॉलेज में पढ़ाई करते समय राजवीर के तीन दोस्त संदीप, राजेश और विक्रम थे। राजवीर, राजेश और विक्रम तीनों ने पढ़ाई करने के लिए शहर के कॉलेज में दाखिला लिया था। पढ़ाई करने के दौरान संदीप भी इनका दोस्त बन गया।

राजवीर-मेघना कॉलेज लव स्टोरी - Best Heart Touching Story In Hindi -


चारों दोस्त पढ़ाई में काफी होशियार थे। राजवीर से किसी भी लड़के या लड़की की परेशानी देखी नहीं जाती थी और वह उसके खिलाफ आवाज उठा देता था। पढ़ाई में होशियार होने के बावजूद राजवीर ने कभी किसी लड़की को आंख उठाकर नहीं देखा था। एक दिन वह कैंटीन में अकेला बैठा हुआ था तभी अचानक एक लड़की आकर उसे डांटने लगती है। राजवीर को कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि आखिर उसने किया ही क्या है कि लड़की मुझसे नाराज होकर इतनी बातें कर रही है।

वह लड़की उसे डांट रही थी लेकिन राजवीर उसके चेहरे को देख रहा था। उसके गुलाबी होंठ राजवीर को दीवाना बना रहे थे। वह उसके ख्यालों में खो हुआ था तभी अचानक लड़की कहती है - कहां खो गए हो, ख्यालों से बाहर आओ।
तभी राजवीर ने कहा - मैडम ! आखिर मैंने किया ही क्या है जो आप मुझसे इतना नाराज हो रही हो।
लेकिन वह उसकी एक भी बात नहीं सुनती है और उसे डांटते रहती है और काफी देर डांटने के बाद वह लड़की वहां से चली जाती है। उसके जाने के बाद राजवीर को पता चलता हैं  कि वह किसी और लड़के की जगह उसे डांट लगा कर चली गई। Heart Touching Story

जाते समय उस लड़की की सहेली ने उसके कान में पता नहीं क्या कहा था जिसकी वजह से वह पीछे मुड़कर राजवीर को ही देख रही थी। अगले दिन चारों दोस्त एक साथ बैठे हुए थे तभी वह लड़की राजवीर को आती हुई दिखाई देती है। उस लड़की को देखने के बाद सारे दोस्त उसे अकेला छोड़कर वहां से उठकर चले जाते हैं। वह लड़की राजवीर के सामने वाली कुर्सी पर आकर बैठ जाती है और कल वाली घटना के लिए माफी मांगती हैं।

वह कहती है - मुझसे गलती हो गई मैंने किसी और लड़के की जगह आप को बुरा-भला कह दिया। लड़की होने की वजह से राजवीर उसे माफ कर देता हूं। इसके बाद लड़की नाम पूछती है तब वह उसे अपना नाम राजवीर बताता हैं। तभी उस लड़की से राजवीर नाम पूछता हूं - आपका नाम क्या है?
वह लड़की जवाब देती है - मेरा नाम मेघना है। काफी बातचीत करने के बाद दोनों वहां से उठ कर क्लास के अंदर चले जाते हैं। Heart Touching Story

इसके बाद से ही राजवीर और मेघना की दोस्ती हो जाती है। कॉलेज जाने की वजह से दोनों एक दूसरे से रोजाना मिलते रहते थे। रोजाना मिलने की वजह से ही उन्हें पता नहीं चला कि दोनों एक-दूसरे से प्यार करते हैं। एक दिन मेघना लाइब्रेरी के अंदर बैठ कर पढ़ाई कर रही थी। तभी अचानक राजवीर मेघना के पास जाकर बैठ जाता हैं और प्यार भरी बातें करने लगता हैं।

राजवीर की बातें सुनकर मेघना कहती हैं - राजवीर ! प्लीज चुप हो जाओ, यह लाइब्रेरी है।
इतने में राजवीर कहता हूं - मैं किसी से नहीं डरता हूं, बस तुमको अपनी जान से अधिक प्यार करता हूं।
तभी वह कहती है - यह सब बातें करने के लिए यह जगह ठीक नहीं है। Heart Touching Story
इतने में राजवीर खड़ा होकर लाइब्रेरी में जोर से कहता हूं - सभी लड़के और लड़कियां मेरी बात पर ध्यान दीजिए। मैं और मेघना एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं क्या इससे आपको कोई परेशानी है।
इस पर सभी लड़के और लड़कियों ने जवाब दिया - हमें कोई परेशानी नहीं है।

इसके बाद दोनों कॉलेज के बाहर आकर बैठ जाते हैं और रोमांस भरी बातें करने लगते हैं। बहुत देर बातें करने के बाद मेघना घर चली जाती है और शाम को अपने पापा से मिलाने के बहाने राजवीर को घर पर बुलाती हैं। राजवीर कमरे पर जाकर तैयार होता है और अपनी बाइक के स्टार्ट करके मेघना के घर पहुंच जाता है। घर पहुंचने के बाद मेघन अपने पापा से राजवीर की मुलाकात करवाती हैं। Heart Touching Story

शाम को खाना खाने के बाद सब लोग एक जगह बैठे हुए थे तभी मेघना दोनों के प्यार के बारे में अपने पापा से कहती है। इस बात को सुनकर मेघना के पिताजी बहुत खुश होते है और दोनों से शादी के बारे में राय पूछते हैं। दोनों ने हां में सिर हिलाते हुए कहा हम एक-दूसरे से प्यार करते हैं और शादी करना चाहते हैं। मेघना के पिताजी ने कहा मैं राजवीर के पिताजी से बात करूंगा। जिसके बाद ही तुम दोनों की शादी की तारीख तय करेंगे।

इधर कॉलेज में छात्र संघ अध्यक्ष के चुनाव नजदीक आ जाते हैं। राजवीर अपने दोस्त संदीप को छात्रसंघ अध्यक्ष चुनाव लड़ने के लिए तैयार कर देता है। अध्यक्ष पद के चुनाव का प्रसार काफी जोर-शोर से चल रहा था। चुनाव संपन्न हो जाने के बाद निर्णय आता है जिसमें संदीप ने जीत हासिल की। राजवीर को पहले ही पता था कि पूरा कॉलेज उससे बहुत प्यार करता है इसलिए उसकी जीत तय है। Heart Touching Story

अध्यक्ष पद के चुनाव के प्रचार के दौरान राजवीर मेघना की ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे पाता हूं। राजवीर को इस बात का बिल्कुल भी पता नहीं था कि मेघना इतनी सी बात को लेकर बहुत नाराज हो जाएगी। राजवीर किसी भी तरह से मेघना को बनाने की कोशिश करता है लेकिन वह राजवीर से दूर रहने की कोशिश करती हैं। काफी दिन हो गुजर गए लेकिन दोनों एक दूसरे से बिल्कुल भी बातचीत नहीं करते थे।

राजवीर ने कई बार मेघना से मिलने की कोशिश की लेकिन वह उससे बात भी नहीं करना चाहती थी। एक दिन राजवीर ने मेघना को कैंपस के ग्राउंड में रोक लिया और कहा - आखिर तुम मुझसे इतना नाराज क्यों हो?
इस पर मेघना ने सिर्फ एक ही जवाब दिया - राजवीर ! अगर तुम मुझे चाहते हो, तो तुम्हें अपने दोस्त विक्रम को छोड़ना होगा। इस बात को सुनकर राजवीर को काफी गुस्सा आता है और वह मेघना से कहता है- मैं अपने दोस्त को अपनी जान से भी अधिक प्यार करता हूं, इसलिए मैं उसे कभी भी नहीं छोड़ सकता। इतना सुनकर मेघना गुस्से में वहां से चली जाती है। Heart Touching Story

इसके बाद राजवीर ने हर तरीके से मेघना से मिलने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहा। सारा कॉलेज इन दोनों के बिछड़ने की वजह से बहुत दुखी हो रहा था। मेघना तथा राजवीर के दूर होने के बात राजेश तथा संदीप के कानों में पड़ती है। कुछ ही देर बाद संदीप सहित तीनों दोस्त राजवीर के कमरे पर आ जाते हैं। राजवीर से पूरी बात जानने के बाद तीनों दोस्त मेघना को राजवीर के पास लाने के लिए उसके घर चले जाते हैं।

आपने पढ़ा होगा की मेघना विक्रम की वजह से ही राजवीर से दूर हुई थी, क्योंकि विक्रम हर समय राजवीर के साथ ही रहता था। विक्रम थोड़ा मजाक किस्म का लड़का था, जो कभी-कभी मेघना से थोड़ी बहुत मजाक कर लिया करता था। जिसकी वजह से मेघना को विक्रम बिल्कुल भी पसंद नहीं था। Heart Touching Story

थोड़ी देर बाद तीनों दोस्त मेघना के घर पहुंच जाते हैं और उसे सच्चाई बताने की कोशिश करते हैं। तीनों दोस्त कहते हैं - अगर आप हमारी वजह से राजवीर से दूर हुई है तो हम आज के बाद उससे नहीं मिलेंगे। तीनों दोस्तों की बात सुनकर मेघना चुपचाप बैठी रहती है। इतनी बातें करने के बाद राजेश, विक्रम तथा संदीप वहां से चले आते हैं।

राजवीर को पूरा विश्वास था कि तीनों दोस्त मेघना को जरूर साथ लेकर आएंगे। थोड़ी देर बाद संदीप तथा राजेश, राजवीर के पास पहुंच जाते हैं। राजवीर ने विक्रम के बारे में पूछा तब संदीप ने जवाब दिया - किसी काम की वजह से बाजार में ही रुक गया है। इसके बाद राजवीर ने विक्रम को कॉल लगाया।
कॉल उठाते ही विक्रम ने जवाब दिया - राजवीर ! मेरी वजह से ही मेघना आपसे दूर हुई है। इसलिए आज के बाद हम मैं आपको कभी भी नहीं मिलूंगा। यह सब बात सुनने के बाद राजवीर काफी परेशान हो जाता है। अपने बचपन के प्यारे दोस्त के दूर होने की वजह से राजवीर मेघना से नफरत करने लग गया। Heart Touching Story

कुछ दिनों बाद मेघना को अपनी सहेली के द्वारा पूरी सच्चाई का पता चल जाता है की राजवीर, विक्रम के बिना एक पल भी नहीं रह सकता है। दोनों बचपन से एक साथ रहते आए हैं। उसकी सहेली ने बताया कि विक्रम राजवीर का मुंह बोला भाई है। इतना सुनने के बाद मेघना काफी दुखी होती है और राजवीर से मिलने की कोशिश करती है।

लेकिन तब तक राजवीर और विक्रम दोनों कॉलेज छोड़कर अपने गांव से जा चुके थे। सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था कुछ ही दिनों बाद विक्रम की शादी तय कर दी जाती है। राजवीर और विक्रम शादी का सामान खरीदने के लिए शहर जाते हैं। दोनों शादी का सामान खरीद रहे थे तभी अचानक विक्रम को मेघना दिखाई देती है। वह सामान खरीदते हुए राजवीर की ओर देख रही थी। विक्रम को मेघना का चेहरा काफी उदास दिखाई देता है। Heart Touching Story

विक्रम से रहा नहीं गया और वह मेघना के पास चला गया और कहने लगा - मेघना प्लीज ! राजवीर आज भी तुमसे बहुत प्यार करता है। और अगर तुम चाहती हो तो मैं 21 तारीख को मेरी शादी हो जाने के बाद राजवीर से बिल्कुल दूर हो जाऊंगा। बातों के दौरान विक्रम ने मेघना को सब कुछ बता दिया था। मेघना ने विक्रम से कहा - मेरे पिताजी मेरी शादी तय कर चुके हैं और मैं राजवीर के बिना नहीं रह सकती हूं। मेघना अपने बैग से एक चिट्ठी निकालकर विक्रम को देती है। घर जाते समय विक्रम ने राजवीर को बताया कि मेघना की भी शादी होने वाली है। इस बात को सुनकर उसे बहुत गुस्सा आया लेकिन कुछ भी नहीं कर सका। Heart Touching Story

विक्रम ने राजवीर को बताया कि मेघना तुमसे बहुत प्यार करती हैं और तुम्हें 21 तारीख को अपने घर बुलाया है। इसके बाद विक्रम एक चिट्ठी निकाल कर राजवीर को साथ देता है और कहता है - यह चिट्ठी मुझे मेघना ने दी थी।
राजवीर ने चिट्ठी को पढ़ना शुरू किया तो चिट्ठी में लिखा था - राजवीर ! मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं और मुझसे गलती हो गई जो अपने भाई और पिताजी के बहकावे में आकर तुम्हें तथा तुम्हारे दोस्तों को बुरा-भला कहा। इन सब बातों के लिए मैं तुमसे माफी मांगती हूं। आने वाली 21 तारीख को मेरी शादी है और शादी से पहले तुम मुझे यहां से ले जाओ। मैं तुम्हारे बिना बिल्कुल भी नहीं जी सकती हूं।

थोड़ी देर पढ़ने के बाद राजवीर की आंखों से आंसू निकलने लग गए। इतने में ही विक्रम, राजेश तथा संदीप को कॉल करके कॉलेज के सामने वाले होटल पर बुला लेता है। थोड़ी देर बाद चारों दोस्त होटल पर इकट्ठा हो जाते हैं। विक्रम अपनी कार स्टार्ट करके मेघना को लेने के लिए उसके घर चला जाता है। थोड़ी देर बाद मेघना और विक्रम गाड़ी लेकर सामने से आते हुई दिखाई देते है। राजवीर और मेघना की गाड़ी के अंदर बैठ जाते हैं और वहां से गांव के लिए रवाना हो जाते हैं। दो-तीन घंटे बाद दोनों गांव पहुंच जाते हैं। Heart Touching Story

इधर मेरे तीनों दोस्त मेघना के घर पहुंच जाते हैं और उसके पिताजी से मेरी और मेघना की शादी करने के लिए रिक्वेस्ट करते हैं। काफी देर कोशिश करने के बाद मेघना के पिताजी दोनों की शादी करने के लिए मान जाते हैं। थोड़ी देर बाद विक्रम राजवीर को कॉल करके सारी बातें बता देता है। इसके बाद राजवीर और मेघना ने विक्रम की शादी में खूब इंजॉय किया।

विक्रम की शादी के कुछ ही दिन बाद 21 तारीख को राजवीर और मेघना की शादी तय कर दी गई। शादी हो जाने के बाद आज दोनों बहुत खुश है क्योंकि राजवीर को अच्छे दोस्तों की वजह से एक दूसरे का प्यार मिल चुका था। इस तरह से राजवीर ने मेघना के प्यार को हासिल किया था।

यह भी पढ़ें - जीजा-साली रोमांटिक प्रेम कहानी – Best Romantic Love Stories In Hindi 2021

दिल को छू लेने वाली कहानी | Heart Touching Story

Post a Comment

Previous Post Next Post